कोरोना के बाद तीज के पर्व में दिखी बाजारों में रौनक

0
72
कोरोना के बाद तीज के पर्व में दिखी बाजारों में रौनक

कोरोना के बाद तीज के पर्व में दिखी बाजारों में रौनक

ये पर्व जितना औरतों को प्रिय है उतना ही छोटे दुकानदारों को। औरतें इस दिन अपने सुहाग के लंबे उम्र की कामना करती है तो दूसरी तरफ दुकानदार अधिक से अधिक व्रतीयों के होने का।
ऐसे पर्वों के बहाने किसानों और छोटे दुकानदारों का भला हो जाता है क्योंकि इन पर्वों में डेयरी उत्पादों, फलों और हस्तकरघा उत्पादों की बिक्री बढ़ जाती है।

हरतालिका तीज पर महिलाएं भगवान शिव और माता पार्वती की विधि-विधान से पूजा करती है। फूलों से सजावट की जाती है और भगवान को चढ़ाया जाता है। पान व सुपारी इस पर्व में महत्वपूर्ण है इनकी खूब बिक्री होती है।

इस पर्व में फल की विशेष प्रधानता है। जिससे बाजार में केला , सेब, अनार और ड्राई फ्रूट्स के दाम और बिक्री बढ़ जाती है।

व्रती अन्न ग्रहण नहीं करती ऐसे में पानी वाला नारियल, लस्सी आदि खूब बिकते है। सरगी के लिए दही, चूड़ा, गुड़ आदि का भी बाजार में खूब मांग होता है।

कोरोना के कारण इन छोटे बाजारों का हालत खस्ता था। तीज आने से अचानक यहां रौनक लौट आई है।

तीज के पर्व में दिखी बाजारों में रौनक
Teej Festival
तीज का पर्व

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here